मूल निवास का मुद्दा उठाने पर अंजाम भुगतने की धमकी, पुलिस को दी तहरीर

 

पिथौरागढ़ जिले के मुनस्यारी ब्लॉक से जिला पंचायत सदस्य जगत मर्तोलिया ने स्थानीय पुलिस थाने में तहरीर देकर अंजाम भुगतने की धमकी दिए जाने वाले अज्ञात के खिलाफ मुकदमा दर्ज करने की मांग की है। उन्होंने आरोप लगाया कि तहरीर देने के 24 घंटे के बाद भी ना मुकदमा दर्ज हुआ है और न ही पुलिस सुरक्षा मिली। उन्होंने बताया कि अपनी जान बचाने को वे पुलिस अधीक्षक से संरक्षण मांगने के लिए पिथौरागढ़ चले गए है।
तहरीर में उन्होंने उल्लेख किया है कि मूल निवास की बात करने पर एक व्हाट्सएप ग्रुप में जिला पंचायत सदस्य को अंजाम भुगतने की धमकी दी गई है। उसी के साथ उसे पागल इंसान भी कहा गया है। जिला पंचायत सदस्य द्वारा मूल निवास से संबंधित बाते लिखने पर एक नंबर द्वारा बार-बार अंदर बाहर और मूल निवास की बात करने पर अंजाम भुगतने की खुली धमकी दी गई है।
जिपंस जगत मर्तोलिया ने कहा कि एक निर्वाचित प्रतिनिधि को पागल इंसान कहकर सामाजिक तथा राजनीतिक छवि धूमिल की गई है। तहरीर में लिखा है कि अंजाम भुगतने की धमकी के बाद वह शारीरिक तथा मानसिक रूप से तनाव में है। उन्होंने कहा कि पूर्व में उसके परिवार में एक सदस्य की देहरादून में संदिग्ध अवस्था में चार साल पहले मृत्यु हुई है।इस धमकी के बाद वे तथा उसका परिवार भय तथा डर के साये में जी रहा है। उन्होंने कहा कि इस धमकी के बाद वे अपने कर्तव्य तथा आजीविका का कार्य नहीं कर पा रहे है।
उन्होंने कहा कि स्थानीय पुलिस जब एक निर्वाचित जन प्रतिनिधि की तहरीर पर 24 घंटे के बाद भी कुछ नहीं कर पाई। इससे अंदाज लगाया जा सकता है कि एक आम आदमी के साथ स्थानीय पुलिस का क्या न्याय रहता होगा।
उन्होंने कहा कि इस धमकी के पीछे किन किन बाहुबली लोगों का हाथ है उसे बेनकाब करते हुए इनको आरोपी बनाते हुए जब तक न्याय नहीं मिलेगा वे चुप नहीं बैठेंगे।
उन्होंने कहा कि वे स्थानीय पुलिस की लापरवाही की शिकायत पुलिस अधीक्षक से गुरुवार 11 जुलाई को मिलकर शिकायत करेंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *